Tuesday, November 29, 2022
More

    Latest Posts

    Winter Session Of Parliament To Be Started Soon Govt And Lok Sabha Speaker Convene An All Party Meeting ANN- HindiNewsWala


    Parliament Winter Session 2022: संसद (Parliament) के शीतकालीन सत्र की तैयारियां शुरू हो गई हैं. इस बार संसद का शीतकालीन सत्र (Parliament Winter Session) कुछ देरी से शुरू होने जा रहा है. 7 दिसंबर से सत्र की शुरुआत होगी. इससे पहले सरकार (GOI) और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला (Om Birla) ने सर्वदलीय बैठकें (All Party Meeting) बुलाई हैं. 

    केंद्र सरकार ने 5 दिसंबर को सर्वदलीय बैठक बुलाई है, जबकि इसके अगले दिन यानी 6 दिसबंर को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने सभी दलों को बैठक के लिए आमंत्रित किया है. संसद का शीतकालीन सत्र आमतौर पर नवंबर के तीसरे हफ्ते से शुरू होता है, लेकिन इस बार हिमाचल-गुजरात के चुनावों के चलते सत्र का समय आगे खिसक गया. ऐसा माना जा रहा है क्योंकि सरकार ने इस बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है.

    शीतकालीन सत्र सेट्रल विस्टा में आयोजित होगा या नहीं?

    संसद का सत्र सात दिसंबर से शुरू होकर 29 दिसंबर तक चलेगा. नए संसद भवन (सेंट्रल विस्टा) का उद्घाटन भी होना है. सूत्रों की मानें तो लगभग 1,200 करोड़ रुपये की लागत से तैयार हो रहे सेंट्रल विस्टा का दिसंबर के पहले हफ्ते में प्रतीकात्मक उद्घाटन किया जा सकता है. मोदी सरकार का प्रयास शीतकालीन सत्र से पहले सेंट्रल विस्टा निर्माण को पूरा कराने का था, लेकिन कुछ कार्यों में तय समय से ज्यादा समय लग गया. बताया जा रहा है कि शीतकालीन सत्र पुराने भवन में ही आयोजित होगा.

    News Reels

    सूत्रों के मुताबिक, नए भवन के हिसाब से कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने में भी समय लगेगा. नए भवन में अगले वर्ष का बजट सत्र आयोजित किया जा सकता है, ऐसी संभावना है. 19 नवंबर को केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि सात दिसंबर से शुरू होकर 29 दिसंबर तक चलने वाले संसद के शीतकालीन सत्र के 23 दिनों में कार्य दिवस के रूप में 17 दिन होंगे.

    धनखड़ पहली बार करेंगे उच्च सदन का संचालन

    भारत के उपराष्ट्रपति ही उच्च सदन राज्यसभा में सभापति होते हैं, इसलिए उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के लिए यह पहला अवसर होगा, जब वह उच्च सदन का संचालन करेंगे. पिछले दिनों जानकारी सामने आई थी कांग्रेस नेता और वायनाड सांसद राहुल गांधी संसद के शीतकालीन सत्र में मौजूद नहीं रह पाएंगे. कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने इस बारे में जानकारी दी थी. उन्होंने राहुल के संसद में पेश न होने पाने के लिए कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को कारण बताया था. उल्लेखनीय है कि कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ राहुल गांधी के नेतृत्व में आगे बढ़ रही है. इससे पहले संसद का मॉनसून सत्र जुलाई-अगस्त में आयोजित किया गया था. मॉनसून सत्र 18 जुलाई से शुरू होने के बाद आठ अगस्त को स्थगित हो गया था.  
     
    यह भी पढ़ें- Rajasthan Politics: अशोक गहलोत के ‘गद्दार’ वाले बयान पर सचिन पायलट की तीखी प्रतिक्रिया, पूछा- इतने अनसेफ क्यों हैं?

    Latest Posts

    Don't Miss