Tuesday, November 29, 2022
More

    Latest Posts

    Rahul Gandhi’s Comment On Veer Savarkar, Reaction Of Eknath Shinde And Other Leaders, 10 Highlights | Veer Savarkar Row: सावरकर पर राहुल गांधी ने दिखाया ‘प्रूफ’, महाराष्ट्र कैबिनेट की बैठक में उठा मुद्दा, कहा- HindiNewsWala


    VD Savarkar Row: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के विनायक दामोदर सावरकर को लेकर किए गए दावे के बाद सियासत तेज हो गई है. कांग्रेस सांसद ने गुरुवार (17 नवंबर) को कहा कि सावरकर ने अंग्रेजों की मदद की थी और जेल में रहने के दौरान उन्होंने माफीनामे पर हस्ताक्षर करके महात्मा गांधी और भारतीय नेताओं को धोखा दिया था. इस बयान पर महाराष्ट्र के सीएम, डिप्टी सीएम समेत कई नेताओं ने आपत्ति जताई है. जानिए मामले से जुड़ी बड़ी बातें.

    1. राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा इस समय महाराष्ट्र से गुजर रही है. उन्होंने बीते मंगलवार को भी वाशिम जिले में आयोजित एक रैली में सावरकर पर निशाना साधा था. वहीं अब गुरुवार को एक बार फिर राहुल गांधी ने विनायक सावरकर के माफीनामे की एक कॉपी दिखाते हुए फिर से उन पर निशाना साधा है. 

    2. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने दावा किया कि सावरकर ने अंग्रेजों की मदद की थी. उन्होंने अंग्रेजों को खत लिखकर कहा था कि सर, मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं. जब सावरकर जी ने माफीनामे पर हस्ताक्षर किए तो उसका कारण डर था. अगर वह डरते नहीं तो वह कभी हस्ताक्षर नहीं करते. इससे उन्होंने महात्मा गांधी और उस वक्त के नेताओं के साथ धोखा किया था. 

    3. महाराष्ट्र कैबिनेट की बैठक में विनायक दामोदर सावरकर के अपमान का मुद्दा उठाया गया. सीएम एकनाथ शिंदे ने इस बैठक में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव रखा. डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी राहुल गांधी के बयान की निंदा की है. इसके अलावा सभी मंत्रियों ने कहा कि सावरकर का अपमान सहन बर्दाश्त किया जाएगा.

    News Reels

    4. इससे पहले मंगलवार को महाराष्ट्र के वाशिम जिले में आयोजित एक रैली में राहुल गांधी ने कहा था कि बीजेपी-आरएसएस के प्रतीक सावरकर हैं. वह दो-तीन साल तक अंडमान में जेल में रहे और उन्होंने दया याचिकाएं लिखनी शुरू कर दीं. 

    5. राहुल गांधी ने आगे कहा कि अंडमान जेल में, सावरकर ने एक पत्र लिखा और अंग्रेजों से कहा कि उन्हें माफ कर दो और उन्हें जेल से रिहा कर दो. वीर सावरकर ने अंग्रेजों से पेंशन ली, उन्होंने कांग्रेस के खिलाफ काम किया. जेल से बाहर आने के बाद उन्होंने अंग्रेजों के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया और उनकी सेना में शामिल हो गए.

    6. स्वतंत्रता सेनानी वीडी सावरकर पर की गई इन टिप्पणियों के लिए राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि राज्य के लोग हिंदुत्व विचारक के किसी भी अपमान को बर्दाश्त नहीं करेंगे. शिंदे ने उद्धव ठाकरे का जिक्र करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में श्रद्धेय स्वतंत्रता सेनानी का अपमान किया गया जबकि ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने इस मुद्दे पर नरम रुख अपनाया है. 

    7. महाराष्ट्र के पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे ने इस मामले पर कहा कि उनकी पार्टी सावरकर का बहुत सम्मान करती है. वह स्वतंत्रता सेनानी पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की टिप्पणी से सहमत नहीं हैं.

    8. उद्धव ठाकरे ने साथ ही ये भी पूछा कि केंद्र सरकार ने हिंदुत्व विचारक सावरकर को भारत रत्न क्यों नहीं दिया है. उन्होंने कहा कि हम सावरकर पर राहुल गांधी की टिप्पणी को स्वीकार नहीं करते हैं. वीर सावरकर के प्रति हमारे मन में अपार सम्मान, आस्था है और इसे खत्म नहीं किया जा सकता.
     
    9. उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि हम वीर सावरकर का सम्मान करते हैं, लेकिन साथ ही जब आप हमसे सवाल कर रहे हैं, तो बीजेपी को यह भी बताना चाहिए कि वे पीडीपी (जम्मू और कश्मीर में) के साथ सत्ता में क्यों थे. उन्होंने दावा किया कि पीडीपी कभी भी ‘भारत माता की जय’ नहीं कहेगी.

    10. विनायक दामोदर सावरकर के पोते रंजीत सावरकर ने कहा कि वीर सावरकर का अपमान करने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ मुंबई के शिवाजी पार्क पुलिस स्टेशन में शिकायत दी है. सावरकर ने एएनआई से बात करते हुए कहा, “यह पहली बार नहीं है जब राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और कांग्रेस ने सावरकर का अपमान किया है. पहले भी उन्होंने सावरकर का अपमान किया है.” 

    ये भी पढ़ें- 

    Maharashtra Politics: वीर सावरकर को लेकर राहुल गांधी के बयान पर बवाल, उद्धव ठाकरे ने किया किनारा

    Latest Posts

    Don't Miss