Tuesday, November 29, 2022
More

    Latest Posts

    Prime Minister Narendra Modi Said About Demonetisation And Central Government Statement In Supreme Court- HindiNewsWala


    Demonetisation: नोटबंदी (Demonetisation) का एलान होने के बाद से ही यह एक विवादित मुद्दा रहा है. इसे लेकर विपक्ष अब तक केंद्र की मोदी सरकार को घेरे हुए है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का एलान करते समय यह साफ किया था कि इसके पीछे का क्या मकसद है. उन्होंने कहा था इसका मकसद कालेधन का सफाया करना और नकली नोटों का उन्मूलन करना है. वहीं, इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में बीते दिन (16 सितंबर) हुई सुनवाई में केंद्र ने कहा कि यह टैक्स चोरी रोकने और कालेधन पर लगाम लगाने के लिए लागू की गई सोची-समझी योजना थी.

    सरकार ने यह दावा भी किया है कि नोटबंदी का फैसला उसका अकेले का नहीं था. इसे काफी चर्चा और तैयारी के बाद लागू किया गया था. इसकी सिफारिश रिजर्व बैंक के केंद्रीय बोर्ड ने की थी. केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में बचाव करते हुए कहा कि नकली नोटों की समस्या से निपटना और आतंकवादियों की फंडिंग को रोकना भी इसका मकसद था. इस योजना को बहुत सोच विचार कर लागू किया गया था और उससे पहले काफी तैयारी की गई थी. पूरे मामले पर सुप्रीम कोर्ट में अगली सुनवाई 24 नवंबर को होनी है. 

    नोटबंदी पर क्या बोले थे पीएम मोदी 

    “भाइयों बहनों, मैंने सिर्फ देश से 50 दिन मांगे हैं. 30 दिसंबर तक मुझे मौका दीजिए मेरे भाइयों बहनों. अगर 30 दिसंबर के बाद कोई कमी रह जाए, कोई मेरी गलती निकल जाए, कोई मेरा गलत इरादा निकल जाए. आप जिस चौराहे पर मुझे खड़ा करेंगे, मैं खड़ा होकर.. देश जो सजा देगा वो सजा भुगतने को तैयार हूं.” उन्होंने यह बात नोटबंदी के ठीक पांच दिन बाद गोवा में एक एयरपोर्ट के शिलान्यास के दौरान कही थी. 

    News Reels

    नोटबंदी के बाद बदल गया था देश का माहौल 

    दरअसल, 6 साल पहले 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपये के पुराने नोटों को वापस लेने की घोषणा की थी. नोटबंदी के बाद देश का माहौल पूरी तरह से बदल गया था. बैंकों के बाहर लंबी कतारें देखी गईं. एलान के बाद  लोगों का एक ही मकसद था अपने पास रखे 500 और 1000 के नोटों को बैंक अकाउंट तक पहुंचाना या उन्हें खर्च करना. 

    ये भी पढ़ें:

    Gujarat Election: सौराष्ट्र में ताबड़तोड़ रैलियां कर PM मोदी करेंगे प्रचार अभियान की शुरुआत, जानिए क्यों सत्ता बचाने के लिए BJP इस क्षेत्र में झोंक रही पूरी ताकत

    Latest Posts

    Don't Miss