Tuesday, November 29, 2022
More

    Latest Posts

    6G Service Testing And Research Start Know 6G Speed- HindiNewsWala


    6G Service: अक्टूबर 2022 में भारत में 5G मोबाइल नेटवर्क की शुरुआत की गई. प्रमुख टेलीकॉम कंपनियों ने कुछ शहरों में अपनी 5जी सर्विस लॉन्च कर दी है. इसके अलावा, कुछ शहरों में लॉन्च होने की तैयार की जा रही है, लेकिन देशभर में इसके विस्‍तार में अभी करीब 2 से 3 साल का समय लगने का अनुमान है. अगर इसकी दुनिया के अन्य देशों से तुलना की जाए तो चीन काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है. चीन में 6G पर काम शुरू कर दिया गया है. चीनी कंपनी ZTE ने दावा किया है कि उसने 1 मिलियन गीगाबिट्स (1 million Gigabits) की नेटवर्क स्‍पीड की खोज में 6G पर रिसर्च शुरू कर दी है. कंपनी ने कहा है कि वह टेक्‍नॉलजी में नया इनोवेशन चाहती है.

    6जी की रिसर्च में हुआ इतना खर्चा

    रिपोर्ट्स के मुताबिक, साल 2022 में ZTE ने 6जी की रिसर्च पर 16 बिलियन युआन (करीब 183 अरब रुपये) खर्च किए हैं. खबर है कि यह इस समय में कंपनी की ऑपरेटिंग कमाई का लगभग 17 फीसदी है. कंपनी का कहना है कि 6G मोबाइल कम्‍युनिकेशन के क्षेत्र में क्रांति लाने वाली बड़ी चीज है. हालांकि अभी इसका डेवलपमेंट अपने शुरुआती फेस में है. जेडटीई ने कहा कि हमारा मकसद 6जी के डेवलपमेंट में आगे आना है. कंपनी R&D कर्मचारियों पर फोकस कर रही है, क्योंकि R&D स्‍ट्रैटिजी इस उद्यम विकास का महत्‍वपूर्ण आधार है. कंपनी की मानें तो कंपनी अपने ऑपरेटिंग इनकम का करीब 10 फीसदी आरएंडडी पर खर्च कर रही है. कंपनी ने आगे कहा कि 6G तकनीक के डेवलपमेंट के लिए वह अपनी कोशिशें जारी रखेगी. 

    कई बड़ी कंपनियां कर रहीं 6G की टेस्टिंग

    News Reels

    दिग्गजों का कहना है कि साल 2030 तक दुनिया में 6G सर्विस की शुरुआत हो सकती है. 6जी की इस रेस में ZTE अकेली नहीं है, बल्कि कई बड़ी कंपनियां 6G की टेस्टिंग का काम कर रही हैं. हाल ही में एलजी कंपनी ने इसमें कामयाबी हासिल की है. दक्षिण कोरियाई टेक्नोलॉजी दिग्गज ने 320 मीटर की दूरी पर 155 से 175 गीगाहर्ट्ज (Ghz) की फ्रीक्वेंसी रेंज में 6G टेराहर्ट्ज (THz) डेटा के वायरलेस ट्रांसमिशन और रिसेप्शन की टेस्टिंग की है. 

    भारत भी नहीं है पीछे

    6जी के मामले में भारत भी पीछे नहीं है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि देश इस दशक के आखिर तक 6G सर्विसेज को भी पेश करने की तैयारी में है. पीएम मोदी ने यह ऐलान ‘स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2022′ ग्रैंड फिनाले को संबोधित करते हुए किया था. इसके अलावा, जापान, दक्षिण कोरिया और अमेरिका भी 6जी पर तेजी से काम कर रहे हैं. 

    यह भी पढ़ें-

    WhatsApp अपने डेस्कटॉप वर्जन को बना रहा दिलचस्प, आप डेस्कटॉप पर चेक कर पाएंगे कॉल हिस्ट्री

    Latest Posts

    Don't Miss